Image default
India National

स्कूल ड्रॉपआउट ने शेविंग ब्लेड से किया गर्भवती महिला का ऑपरेशन, महिला-बच्चे की मौत

मामला सामने आने के बाद पुलिस ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इस अवैध क्लीनिक के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए लिखा है। मृतक महिला के पति की शिकायत पर पुलिस ने राजेंद्र शुक्ला और राजेश साहनी को गिरफ्तार कर लिया है।

school dropout acts as doctor for pregnant women uses shaving blade for surgery स्कूल ड्रॉपआउट ने शे- India TV Hindiसुल्तानपुर. उत्तर प्रदेश में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, यहां 30 साल के एक व्यक्ति ने शेविंग में इस्तेमाल होने वाले ब्लेड से एक गर्भवती महिला का सीजेरियन सेक्शन कर दिया है। महिला का ऑपरेशन करने वाला यह व्यक्ति स्कूल ड्रॉपआउट है, यानि कि उसने अपनी स्कूली पढ़ाई भी पूरी नहीं की है। इस घटना में महिला की तत्काल मौत हो गई और उसके नवजात शिशु ने थोड़ी देर बाद दम तोड़ दिया। सी-सेक्शन सर्जरी करने वाले राजेंद्र शुक्ला ने 8वीं क्लास के बाद ही पढ़ाई छोड़ दी थी और वह सैनी गांव के मां शारदा अस्पताल में काम करता था। उसे राजेश साहनी नाम के व्यक्ति ने काम पर रखा था। जांच में पता चला है कि राजेश साहनी बिना रजिस्ट्रेशन के ही यह अस्पताल चलाता था।

मामले को लेकर सुल्तानपुर के पुलिस अधीक्षक अरविंद चतुर्वेदी ने कहा है, “हमने पाया कि यह एक अपंजीकृत क्लिनिक था जिसमें सर्जरी करने के लिए कोई बुनियादी ढांचा भी नहीं था। ऑपरेशन करने के लिए आरोपी ने रेजर ब्लेड का इस्तेमाल किया।”

बलदीराम के एसएचओ अमरेन्द्र सिंह ने बताया कि महिला को प्रसव पीड़ा होने पर उसे एक दाई के पास ले जाया गया, जिसने राजाराम को डीह के एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाने के लिए कहा। वहां सहायक नर्स ने पूनम की जांच की और उसकी नाजुक हालत को देखकर उसे अस्पताल ले जाने के लिए कहा। जब ऑपरेशन टेबल पर पूनम का बहुत खून बह गया तब शुक्ला ने उसे जिला अस्पताल ले जाने के लिए कहा। इसके बाद उसे लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) ट्रॉमा सेंटर ले गए, जहां उसकी मौत हो गई।

Related posts

महाराष्ट्र के रत्नागिरी में केमिकल फैक्ट्री में धमाका, चार लोगों की मौत, एक घायल महाराष्ट्र (Maharashtra) के रत्नागिरी (Ratnagiri) में एक केमिकल फैक्ट्री में अचानक जोरदार धमाका हुआ। जिसके बाद आसमान में धुएं का गुबार छा गया।

abhisheknews

दिल्ली सरकार की ‘हर घर राशन डिलीवरी’ पर केंद्र की रोक के बीच केजरीवाल ने बुलाई समीक्षा बैठक बता दें, इसी बीच दरअसल केजरीवाल सरकार 25 मार्च से ‘मुख्यमंत्री घर-घर राशन योजना’ को दिल्ली में लॉन्च करने वाली थी।

abhisheknews

किसान आंदोलन को देखते हुए यूपी प्रशासन सतर्क, टोल प्लाजा पर सुरक्षा चाक चौबंद

abhisheknews

Leave a Comment

%d bloggers like this: